Shayari

100+ Best Dhoka Shayari in Hindi with Image

Dhoka Shayari in Hindi :In his post we share with you best Dhoka Shayari in Hindi so you enjoy this post or definitely you will learn something good from Dhoka Shayari in Hindi . Shayari is the best thing to enjoy with your friend by share this Dhoka Shayari in Hindi .

Dhoka Shayari in Hindi is the best shayari lot of people follow and read or even people like to learn this Dhoka Shayari in Hindi due o their passion. This is Dhoka Shayari in Hindi you can use it for your with your school projects. from Dhoka Shayari in Hindi for Girlfriend you will learn real meaning of life. you can share these shayari with your friends on social media.

We make it simple for you to find the best Dhoka Shayari in Hindi for Girlfriend so let’s start to read….

Dhoka Shayari in Hindi Image

for more : Dhoka Shayari in Hindi Image

Dhoka Shayari in Hindi

आंखों 👀से आंसू 😭 नहीं रुक रहे ,
और एक तू है के हस ☺️ के बात कर रही है …
लहजे में माफी 🙏 और आंखों में शरम तक नहीं ,
ये एक्टिंग का कोर्स तू ला जवाब कर रही है .. ।।

जबसे प्यार 💔 में धोका खाया है ,
हर हुस्न वालों से डर 😱 लगता है …
पहले अंधेरे की आदत नहीं थी मुझे ,
अभी उजालों से 😨 डर लगता है … ।। 😟

की मोहब्बत ♥️ मोहब्बत बहोत करती हो कभी दिल लगा कर तो देखो ,
पूरी ताकत 🏋️ लगा लो मेरी मोहब्बत के आस पास आकर तो देखो ..
मैंने नंबर आज तक नहीं बदला ,
कभी कॉल 📞 लगा कर तो देखो … ।। 🤨

आपकी आँखे अक्सर वही लोग खोलते है- जिनपर आप आँखे बंद करके विश्वाश करते है

पल पल उसका साथ निभाते हम
एक इशारे पे दुनिया छोड़ जाते हम
समुन्द्र के बीच में पहुच कर फरेब किया उसने
वो कहता तो किनारे पर ही डूब जाते हम

टुटा हो दिल तो दुःख होता है
करके मोहब्बत किसी से ये दिल रोता है
दर्द का अहसास तो तब हो
और उसके दिल में कोई और होता है

कदम कदम पर बहारो ने साथ छोडा ,
जरुरत पडने पर यारो ने साथ छोडा ,
बादा किया सितारोँ ने साथ निभाने का ,
सुबह होने सितारो ने साथ छोडा.

यू तो हर दिल में एक कशिश होती है
हर कशिश में एक ख्वाहिश होती है
मुमकिन नही सभी के लिए ताज महल बनाना
लेकिन हर दिल में एक मुमताज़ होती है

अगर आप किसी कों धोका देने में कामयाब हो गए

तो ये मत समजना की आप कितने चालाक है

ये सोचना की वो आप पर कितना विश्वास करता था

मैंने उनसे प्यार किया,
यह मेरे प्यार की हद थी.
मैंने उनपे इतबर किया,
यह मेरे इतबर की हद थी.
मरकर भी खुली रही मेरी आखें,
यह मेरे इंतिज़ार की हद थी.

किसी का हाथ लेकर हाथ मे जब तुम मिले हमसे,
तो कैसे टूट के बिखरा था मेरा मन आँखो मे,
ना समझो चुप है तो तुमसे कोई शिकवा नही बाकी,
हम अपने दर्द की नही रखते कोई पहचान आँखो मे,

समजते थे हम उनकी हर एक बात को,
वो हर बार हमसे धोका देते थे,
पर हम भी वक़्त के हातो मजबूर थे,
जो हर बार उनको मौका देते थे.

हमने तो बेवफा के भी दिल से वफ़ा किया
इसी सादगी को देखकर सबने दगा किया
मेरी टिशनगी तो पी गयी हर जख्म के आँसू
गर्दिश मे आके हमने अपना घर बना लिया

मोहब्बत मे जी गया कोई प्यार मे मर गया कोई,
मोहब्बत आग को सागर हे फिर भी उतार गया कोई,
प्यार मे ज़ख़्म का किस्सा बहोत पुराना हे दोस्तो,
ज़ख़्म दे गया कोई तो ज़ख़्म भर गया कोई .

मौत माँगते है तो जिन्दगी खफा हो जाती है, जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है, तू ही बता ऐ दोस्त क्या करूँ, जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है.

कैसी है यह हमारी तक़दीर,
हर तरफ दागा ही पाया है.
दिल मे तो है प्यार ही प्यार लेकिन,
हर तरफ बेवफाओ को ही पाया है.

इंनकार करते करते, इकरार कर बैठे,
हम तो एक बेवफा से प्यार कर बैठे.

कोई वादा नही फिर भी तेरा इंतेज़ार है,
जुदाई के बाद भी तुमसे प्यार है,
तेरे चेहरे की उदासी दे रही है गवाही,
मुजसे मिलने को तू अब भी बेकरार है.

बड़ी हसीन थी ज़िंदगी..
जब ना किसीसे मुहब्बत ना किसी से नफ़रत थी!
ज़िंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मुहब्बत उससे हुई
और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी.

पत्थर से दिल लगाने से पहेले देख लेते,
की वो धड़क रहा हे के नही.
उनपर ऐतबार ना करते हम अगर,
तो ज़िंदगी मे ठोकर ना खाते हम कभी.

वफ़ा के नाम से वो थोड़े अंजान थे,
किसी की बेवफ़ाई से शायद थोड़े परेशान थे,
जब हमने वफ़ा देनी चाही तब पता चला के,
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे.

चाहते थे जिन्हे उनका दिल बदल गया
समन्दर तो वही गहरा हे पर साहिल बदल गया
कतल ऐसा हुआ किस्तो मे मेरा,
कभी बदला खंजर तो कभी कातिल बदल गया.

एक आग लगाई सिने मे मेरे,
और उसका माज़ा भी लेते रहे,
शोलो का तमाशा भी देखा उसने,
और आँचल से हवा भी देते रहे.

बेख़बर तुझे क्या खबर;
तेरी आँखों मई कैसा जमाल है;
तुझे देख ले जो बस इक नज़र;
उस की आँखों मे फिर यह सवाल है!

ग़मों की बरसात समेटे बैठा हूँ , किसी बेवफा से धोखा खाया बैठा हूँ ,
जाने कब देगा उपरवाला मुझे मौत , खुदा के भरोसा आस लगाये बैठा हूँ

यू तो कोई तन्हा नही होता,
चाहकर किसी से कोई जुदा नही होता,
मोहब्बत को मजबूरिया ही ले डूबती है,
वरना खुशी से कोई बेवफा नही होता.

हमने अपनी सांसो पर उनका नाम लिख लिया,
नही जानते थे की हमने कुछ ग़लत किया,
वो प्यार का वादा हमसे करके मुकर गये,
खैर उनकी बेवफ़ाई से कुछ तो सबक लिया.

हर धड़कन मे एक राज़ होता है,
हर बात को बताने का एक अंदाज़ होता है,
जब तक ठोकर ना लगे बेवफ़ाई की,
हर किसी को आपने प्यार पे नाज़ होता है.

अब तो हम तेरे लिए अजनबी हो गये
बातो के सिलसिले भी कम हो गये
खुशियो से ज़्यादा हमारे पास गम हो गये
क्या पता ये वक़्त बुरा है या बुरे हम हो गये.

Dhoka Deti Hai
धोखा देती है अक्सर मासूम चेहरे की चमक,

हर काँच के टुकड़े को हीरा नहीं कहते

Janta Tha Wo Dhoka
जानता था की वो धोखा देगी एक दिन पर चुप रहा क्यूंकि उसके धोखे में जी सकता हूँ पर उसके बिना नहीं

भरोसा जितना कीमती 💰 होता है ,
धोका 💔 उतना ही महंगा हो जाता है …
ईमानदारी का दाम कोन जाने 🤔 ,
यहां हर बेइमान राजा हो जाता है … ।।

शायद देने के लिए
कुछ नहीं था उनके पास
तो धोखा ही दे दिया।

अपने तो बस वो बना करते थे ,
हक़ीकत में उनसे बड़ा कोई गैर नहीं था।

Apne to bus wo bana karte the
Haqiqt me unse bada koi gair nahi tha

आग दिल में लगी, जब वो खफा हुए
महसूस हुआ तब, जब वो जुआ हुए
करके वफ़ा कुछ दे ना सके वो
पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफा हुए।

Aag Dil Me Lagi Jab Wo Khafa Hue
Mehsoos Hua Tab, Jab Wo Juda Hue
Karke Wafa Kuchh De Na Sake Wo
Per Bahut Kuchh De Gaye Jb Wo Bewafa Hue.
Read Bewafai Shayari
**********

तेरे धोखे को भुला ना सकेंगे ,
चाहे भी तो कभी मुस्कुरा ना सकेंगे।
तुझको तो मिल गया यार अपना
अपना किसी को हम बना ना सकेंगे।

Tere Dhokhe Ko Bhula Na Sakenge
Chahe Bhi To Kabhi Muskurana Sakenge
Tujko To Mil Gaya Yaar Apna
Apna Kisi Ko Hum Bana Na Sakenge
Read Ashq Shayari
*********

पढ़ रहा हूँ इश्क़ की किताब ,
गर बन गया वकील तो
दगाबाज़ की खैर नहीं।

Padh raha hoon ishq ki kitab
Gar ban gaya wakil to
Dagabaaz ki khair nahi
Read Aansu Shayari

वो 4 दिन क्या मिले ,
हम 4 दिन जीने के
काबिल ना रहे।

Wo 4 din kya mile
Hum 4 din jeene ke
Kabil na rahe
Read Ashq Shayari
********

मुझे मंज़ूर थे वक़्त के हर सितम
मगर तुमसे बिछड़ जाना
ये सजा कुछ ज़्यादा हो गयी

 

मत रख हमसे वफा कि उम्मीद,
हमने हर दम बेवफाई पाई हे.
मत धुंढ हमारे जिस्म पे ज़ख्मो के निशान,
हम ने हर चोट दिल पे खाई हे.

वो दिल की लगी को अदा समजने लगे,
दो पल रुठ के गुज़रे जफ़ा समजने लगे,
वो क्या जाने मे कितना रोया उनके बिन,
वो बिन सोचे समजे बेवफा समजने लगे.

आपके प्यार ने दिया सुकून इतना,
के आपके सिवा ना कोई प्यारा लगे,
बेवफ़ाई करनी हे तो इस तरह से करना,
के आपके बाद कोई बेवफा ना लगे.

ए खुदा तूने हम दीवानो का,
ये कैसा नसीब बनाया है,
जितनी खुशिया दूर जाती है,
उतना ही गम करीब आया है.

वो धोकेबाज मेरा इम्तिहान क्या लेगी,
मिलेगी नज़रो से तो नज़र तक झुका देगी,
उसे मेरी कबर पे दिया जलाने को मत कहेना,
वो तो नादान हे कही अपना हाथ जला देगी.

हर दिल का ज़ख़्म धो लेते हे,
आंसुओ के जाम से.
इतनी बेवफ़ाई करो की,
नफ़रत हो जाए लडकियों के नाम से.

वफ़ा के नाम से वोह अनजान थे!
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे!
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला!
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे!

मेरी मौत के सबब आप बने;
इस दिल के रब आप बने;
पहले मिसाल थे वफ़ा की;
जाने यूँ बेवफ़ा कब आप बने

अपने दिल को आख़िर दुखाना है,
और बहारो मे घर सज़ाना है,
तो प्यार अक्सर एक बेवफा से करो,
अगर मोहब्बत को आजमाना है.

Mujhe manzoor the waqt ke har sitam magar
Tumse bichad jana ye saza
Kuch zyada ho gayi
Read Aansu Shayari
*********

फ़र्ज़ अपनी मोहब्बत का
अदा करता रहूंगा ,
तुम हमेशा खुश रहना
ये दुआ करता रहूंगा।

Farz apni mohabbat ka
Ada krta rhunga
Tum humesha khush rhna
Ye dua karta rhunga
Read Aashiqui Shayari

ना जाने किस्मत खराब थी ,
या हमारे प्यार पे
किसी की नज़र।

Na jaane kismat khrab thi
Ya humare pyar pe
Kisi ki nazar
Read Dard bhari Shayari
**********

कदम तुम्हारे लड़खड़ाते ही रहते थे ,
हमे लगा कि तुम्हे चलना ही नहीं आता।

Kadam tumhare ladkhdate hi rhte the
Hume laga ki tumhe chalna hi nahi aata
Read Darde Dil Shayari
*********

उन्होंने हमे आजमाकर 🤨 देख लिया ,
एक धोका 💔 हमने भी खाकर देख लिया …
क्या हुआ हम हुए जो उदास , 😔
उन्होंने तो अपना दिल ♥️ बेहलाके देख लिया … ।।

मोहब्बत ♥️ में कोई जी गया कोई प्यार में मर गया
मोहब्बत आग🔥 को सागर है फिर भी उतर गया कोई
प्यार ♥️ में जखम का हिसाब बहुत पुरान है मेरे दोस्त,
जख्म दे गया कोई जख्म भर गया कोई … ।।

बड़ी हसीन 👩 थी जिंदगी ,
जब ना किसी से मोहब्बत ♥️ ना किसी से नफ़रत थी …
जिंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मोहब्बत उससे हुई ,
और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी … ।।

लम्हा लम्हा सांसे ख़तम हो रही है , 😞
जिंदगी मौत 💀 के पहलू में सो रही है …
उस बेवफा 💔 से ना पूछो मेरी मौत की वजह ,
वो तो जमाने को दिखाने के लिए रो 😭 रही है … ।।

बस दिल ♥️ लगी थी उसे हमसे मोहब्बत कब थी ,
महफ़िल ए गैर से उन को फुरसत कब थी 🤔…
हम थे मोहब्बत में लोट जाने के काबिल ,
उस के वादों में वो हकीकत कब थी … ।। 🤨😔

 

सब कुछ है मेरे पास पर दिल की दवा नहीं, दूर वो मुझसे हैं पर मैं खफा नहीं,
मालूम है अब भी प्यार करते है मुझसे, वो थोडा सा जिद्दी है, मगर बेवफा नहीं

चाहने वालो को यू सताया नही जाता,
बेवफाओ को भी यू भुलाया नही जाता.
हम तो तुम्हारे ही है,तुम्हारे ही थे,
आपनो को यू ज़िंदगी मे तडपाया नही जाता.

धोकेबाज है दुनिया किसी का ऐतबार ना करो,
हर पल देते है धोका किसी से प्यार ना करो,
मिट जाओ बेशाक़ तनहा जी कर,
पर किसी के साथ का इंतज़ार ना करो.

वो जो अपना था हुंसे है खफा,
पता नही किस से हुई थी क्या ख़ाता,
बे वजह दिल नही टूटता किसी का,
तुम थे या हम थे बेवफा.

लोग तो अपना बना कर छोड देते हैं, कितनी आसानी से गैरों से रिश्ता जोड लेते हैं,
हम एक फूल तक ना तोड सके कभी.. कुछ लोग बेरहमी से दिल तोड देते हैं.

हसी की राह मे गम मिले तो क्या करे,
वफ़ा के नाम पर बेवफा मिले तो क्या करे.
कैसे बचे ज़िंदगी मे धोके बाजो से,
कोई हस के धोका दे तो हम क्या करे.

​आग दिल में लगी जब वो खफा हुए;​
​महसूस हुआ तब,​ ​जब वो जुदा हुए​;
​​करके वफ़ा कुछ दे न सके वो​
​​पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफा हुए.

ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे;
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया;
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे।

मत बहा आंसुओं में जिंदगी को;
एक नए जीवन का आगाज़ कऱ;
दिखानी है अगर दुश्मनी की हद तो;
ज़िक्र भी मत कर, नज़र अंदाज़ कर।

मिलने की आस तन्हाई होती हे,
वफ़ा की आस बेवफा होती हे,
दिल मे जीने की उमंग समाई होती हे,
पता नही किसको क्या मिले,
क्योकि किस्मत रब की बनाई होती हे.

ये नहीं गम 😔 के कसम अपनी भुलाई तुमने ,
गम 😞 तो ये है कि रकीबों सी निभाई तुमने …
कोई रजिश थी अगर तुमको तो मुझसे कहते ,
बात आपस की थी सबको क्यों बताई तुमने … ।। 😟

मोहब्बत ♥️ सीखा कर जुदा हो गए ,
न सोचा न समझा खफा 😒 हो गए
दुनिया 🌏 में किसको हम अपना कहे ,
जब तुम ही बेवफा 💔 हो गए।

ज़िन्दगी 🌏 में एक पल भी सुकून न पाया ,
दुनिया की इस भीड़ में खुद को तनहा 😞 न पाया …
तेरे दिए ज़ख्मो 💔 को प्यार 💞 समझते रहे ,
तेरे धोके 🤨 में आके किसी से दिल न लगाया …. ।।

तेरी बेवफाई 💔 का किस्सा जब जब याद आएगा ,
मेरे तन बदन में एक आग 🔥 सी भड़कायेगा …
जो तूने किया कोई दुश्मन भी नहीं ऐसा करता 😒🤨
देख 🧐 लेना एक दिन तू भी बोहत पछतायेगा … ।।

प्यार ♥️ के उजाले में गम 😔 का अँधेरा क्यों है,
जिसको हम चाहे वही रुलाता 😭 क्यों है …
मेरे रब्बा 🙏 अगर वो मेरा नसीब नहीं तो,
ऐसे लोगो से हमें मिलाता क्यों है 🧐😔 … ।

मुझसे खता 😒 हुई जो ये दिल ♥️ तुझसे लगा लिया,
गम 😔 को हमेशा के लिए अपना बना लिया …
अब जीने 🤫😟 की चाहत न रही हमको,
इसलिए हमने अपनी मौंत 💀 का जनाजा 🙏 खुद ही सजा लिया … ।।

सुना है तेरे दर पर देर है अंधेर 🌃 नहीं,
आप तो जवानी 👩 उनका नाम लेकर चलने 🚶लगी ..
इतने गम 😔 भर गए हैं हमारी जिंदगी में,
की परछाई भी साथ रहने से डरने 😨 लगी … ।।

खुशी 😊कम वह मेरे लिए गम 😔 ज्यादा छोड़ गए,
गैरों से मिलकर प्यार ♥️ की मर्यादा तोड़ गई 🧐
अब गम 😞 से ही जिंदगी बसर हो जाएगी,
तड़पने के लिए वह हमें जिंदा आधा 🔥 छोड़ गए … ।।

ये मुकरने 😒 का अंदाज़ मुझे भी सीखा 🤨 दो ,
जैसे बने तुम 💔 बेवफा …
वैसे बेवफा मुझे भी बना दो … ।। 😒🤨

मालूम है अब भी
वो मोहब्बत करता है मुझसे ,
वो थोड़ा-सा ज़िद्दी है
मगर धोखेबाज़ नहीं

Malum hai ab bhi
Wo mohabbat karta h mujhse
Wo thoda sa ziddi hai
Magar dhokhebaaz nahi
Read Dukh Bhari Shayari

Dhokha Shayari in Hindi pic | Dhokha Shayari in Hindi image
Read Judai Shayari, Bewafai Shayari
Dhokha Shayari in hindi Images | कदम-कदम पर बहार
Dhokha Shayari images , Dhokha Shayari in Hindi images

कैसी है ये हमारी तक़दीर,
हर तरफ़ दगा ही पाया है।
दिल में तो प्यार ही प्यार है ,
लेकिन हर तरफ़ बेवफाओ को पाया है।

Kaisi hai yeh humari takdeer
Har taraf daga hi paya h
Dil me to pyar hi pyar h
Lekin har traf bewafao ko paya h
Read Romantic Shayari
*********

खाये है लाखो धोखे ,
एक धोखा और सह लेंगे।
तू लेजा अपनी डोली को
हम अपनी अर्थी को बारात कह लेंगे।

 

आकाश मे डूबा एक प्यारा तारा हे,
हमको तो किसी की बेवफ़ाई ने मारा हे,
हम उनसे अब भी मोहब्बत करते हे,
जिसने हमे मौत से भी पहेले मारा हे.

आग दिल मे लगी जब वो खफा हुए,
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए,
कर के वफ़ा कुछ दे ना सके वो,
पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफा हुए.

उनकी आँखो मे इस कदर का नूर हे की,
उनके ख़यालो मे रोना भी मंज़ूर हे.
बेवफा भी नही कहे सकते उन्हे क्यू की,
प्यार तो हमने किया था वो तो बेकसूर हे.

जिस गुलशन को मैने लहू से सजाया था,
हर फूल को मैने खून-ए-जिगर पिलाया था,
उससे वीरान कर दिया तेरी बेवफ़ाई ने,
और मैने तुझको वफ़ा की देवता बनाया था.

बेवफाई उसकी मिटा के आया हूँ;
ख़त उसके पानी में बहा के आया हूँ;
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को;
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

Khae h lakho dhokhe
Ek dhokha aur seh lenge
Tu leja apni doli ko
Hum apni arthi ko barat kh lenge
Read Breakup Shayari
*********

दिल के दरवाज़े तो अभी भी खुलते है ,
अपनी तरफ से वो ही नहीं चलते है।

Dil ke darwaze to abhi bhi khulte h
Apni taraf se wo hi nahi chalte h

आदत थी मेरी मुस्कुराने 😊 की
तुमने रोना 😭 सीखा दिया …
इन प्यार ♥️ वाली बातों से ,
तुमने दूर रहना सीख दिया … ।। 🤨🤫

हर भूल तेरी माफ 🙏 की ,
हर खाता को तेरी भुला दिया … 🤫🤔
गम 😞 है कि ! मेरे प्यार ♥️ का तूने ,
बेवफा 💔 बनके सिला दिया … ।। 🤨😞

हर बात पर आंसू 😭 बहाया नहीं करते ,
दिल ♥️ की बात हर किसीको बताया 🧐 नहीं करते …
लोग मुट्ठी में नमक लेकर घूमते है , 😯
दिल के जख्म हर किसीको दिखाया 🤐 नहीं करते … ।। 🧐🤫

हम आपकी हर चीज़ से प्यार ♥️ कर लेंगे,
आपकी हर बात पर ऐतबार 😍 कर लेंगे,
बस एक 🤨 बार कह दो कि तुम सिर्फ 😊 मेरे हो,
हम ज़िन्दगी भर आपका इंतज़ार 🧐 कर लेंगे … ।।

उन्होंने हमें आजमाकर 🤨 देख लिया,
इक धोखा 🤫 हमने भी खा कर देख 🧐 लिया,
क्या हुआ हम हुए जो 😔 उदास,
उन्होंने तो अपना दिल ♥️ बहला के देख लिया..!! 😒😯

मुहब्बत ♥️ में क्यों बेवफ़ाई 💔 होती है,
सुना था प्यार 💘 में गहराई होती है,
टूट 💔 कर चाहने वाले के नसीब में,
क्यों सिर्फ तन्हाई होती है..!! 🤨😔

सब के होते हुए भी तन्हाई 😞 मिलती हे,
यादो में भी 😔 गम की परछाई मिलती हे, 🤨
जितनी भी दुआ 🙏 करते हे किसी को पाने 💞 की,
उतनी ही उनसे बेवफाई 💔 मिलती है..!! 🤔😞

हम आइना है 🔎 आइना ही रहेंगे ,
फिक्र वो करे 🤔 ….
जिनकी 🎭 शकल में कुछ ,
और ❤️ दिल में कुछ है …. ।।

गलती हुई 🙏की उसे जान ❤️ से भी ज्यादा चाहने लगे ,
क्या पता थी की मेरी इतनी 💞 वफ़ा उसे बेवफा कर देगी 💔 … ।।

प्यार ❤️ निभाने के लिए ,
मैं हमेशा झुकता 🙏 रहा …
और तुम इसे 🤔 मेरी ,
औकात 😄 समझ बैठे … ।। 💔

हम अपने दर्द 💔 का शिकवा तुमसे कैसे करें 🤔
मोहब्बत 💞 तो हमने की है तुमतो बेक़ुसूर 🙏 हो … ।।

अर्ज़ किया है-
तुमने हमें 💔 धोखा दिया,
मगर ❤️ तुम्हे प्यार मिले ….
मुझसे भी ज़्यादा 🤯 दीवाना,
तुम्हे कोई 🤗 यार मिले … ।।

कभी कभी ये 🤔 क्यों लगता है ,
कि तुम मेरी पूरी ज़िन्दगी 🌏 हो ….
और मैं तुम्हारा ⌛ लम्हा भी नहीं … ।। 💔

पहले इश्क़ ❤️ फिर धोखा 💔 फिर बेवफाई 😠 ,
बड़ी तरकीब से एक इश्क़ ने तबाह कर दिया।

आज अलफ़ज़ 🤔 नहीं मिल रहे थे ,
दर्द 💔 लिख दिया हूँ महसूस☹️ कीजिये …

अपनी पीठ 🤫 से निकले खंज़रों 🗡️को जब गिना मैंने 🤔 ….
ठीक उतने ही निकले 😣 जितना तुझे गले 🤗लगाया था … ।। 💔😠

तुम्हे शिकायत 😡 है की मुझे बदल दिया ⌛ वक़्त ने
खुद से पूछो, क्या तुम वही 🤔 हो … ।। 💔

बहुत धोखा 💔 मिलता है उन लोगों को ,
जो दिल के साफ़ होते है।

वो शख्स 🧐 जो कहता था तू न मिला तो मर ⚰️ जाऊंगा “फ़राज़”
वो आज भी जिंदा 🤫 है यही बात किसी और से कहने के लिए☹️ … ।। 🤨💔

वो तो अपने प्यार ❤️ का प्रसाद
सबको बांट 😄रहे थे
हम ही अनजाने में सारा 🍪 प्रसाद
अपना समझ बैठे ☹️ … ।। 💔

दिल से रोये 😭 मगर होंठो से मुस्कुरा 🙂 बेठे,
यूँ ही हम किसी से ❤️ वफ़ा निभा बेठे …
वो हमे एक ⌛ लम्हा न दे पाए अपने प्यार ❤️ का,
और हम उनके लिये जिंदगी 🖤 लुटा बेठे … ।। 😣💔

मेरी तन्हाई 😔 को मेरा शौक 🤨 ना समझना ,
बड़े प्यार से दिया है तोहफा 🎁 किसी ने … ।। 💔

मुद्दतें हो गई 🔢 हिसाब किये ,
क्या पता कितने रह गए 😔 हम … ।। 🤨🖤

मैं उसका सबसे पसंदीदा 🤗 खिलौना हूँ दोस्तों 😅,
वो रोज़ जोड़ती 🤗 है मुझे फिर से तोड़ने 💔 के लिए … ।। 🖤💔

जितना गहरा 🤝 भरोसा था उन पर ,
उससे भी गहरा 💔 धोखा देकर चले गए वो … ।।

तुम ने उस ⌛ वक़्त बेवफाई की,
यक़ीनन जब आखिरी मुकाम ☹️ पर था …।।

बेवजह छोड़ गए हो 💔 ,
बस इतना बताओ ☹️ सुकून मिला की नहीं …. ।। 🖤

जो जता-जता के हमसे ❤️ प्यार करते है ,
वही लोग अक्सर 🤨 पीछे से वार करते 🗡️ है … ।।

धोखा 💔 देकर ऐसे चले गए ,
जैसे कभी जानते 🧐 ही नहीं थे …
अब ऐसे 😠 नफरत जताते हो,
जैसे प्यार को मानते 🖤 ही नहीं थे … ।। 💔

बहुत तलाश 🧐 किया पर कहीं गुम हो गए वो…
ढूंढने 🤨 की कोशिश की पर नहीं मिले वो,
मेने तो वफ़ाई की लेकिन.. उसके प्यार ♥️ में शायद खोट था…
इसलिए तो किसी और के बाहों 😞 में खो गए वो… ।।

अब तो हम तेरे लिए अजनबी 🤔 हो गए ,
बातों 🤫 के सिलसिले भी कम हो गए …
खुशियों 😁 से जायदा हमारे पास गम 😔 हो गया ,
क्या पता यह व 🕣 बुरा है या बुरे हम हो गए … ।।

उसने तोडा 🤨 वो ताल्लुक़ जो हमारी हर बात 🤫 से ,
था उसको दुःख 😞 न जाने मेरी किस बात से था ..
सिर्फ ताल्लुक़ रहा, लोगों की तरह वो भी जो अच्छी ,
तरह वाकिफ मेरी हर बात से था 🤔 … ।।

हर लम्हा 🕣 साँसे बुड्ढी हो रही है ,
जिंदगी मौत 💀 के साये में है फिर जिद्दी हो रही है …
बेवफा 💔 को बेखबर रखना मेरी मौत की खबर से ,
ज़माने के लिए आंसू 😭 है वो अंदर हंस रही है … ।।

हर रोज 🤨 एक खाब टूट जाने दे ,
हर रोज युही खूद को रूठ 😔 जाने दे …
मेरी किस्मत में ही बेवफाई 💔 है ,
दिल एक शीशा है आज फिर फूट जाने दे …. ।।

उल्फत का अक्सर यही दस्तुर होता है, 🤨
जिसे चाहो ♥️ वही अपने से दूर होता है, 😔
दिल टूट 💔 कर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना 🐩 चूर होता है …. ।।

हर मुलाकात पर वक्त 🕣 का तकाजा हुआ,
हर याद पर दिल ♥️ का दर्द ताजा हुआ,
सुनी थी सिर्फ लोगो से जुदाई की बाते, 🤨
आज खुद पर बीती तो हकीकत का अंदाजा हुआ 🧐🤫😞 … ।।

हम क्या शिकायत 🤫 करें किसी से ,
यहां तो हर कोई बेवफा 💔 है …
इश्क ♥️ करो भले जी जान से ,
धोखा 🤫😔 यहां सबको मिलता है … ।।

मोहब्बत 💞 की दुनिया में आकर तो देखो ,
किसी से दिल ♥️ लगा कर तो देखो …
समझ जाओगे की दर्द 😔💔 क्या होता है ,
कभी इश्क में ठोकर खाकर तो देखो … ।। 😟🤔

पल पल ⏳ उसका साथ निभाते हम,
एक इशारे पे दुनिया 🌏 छोड़ जाते हम,
समंदर 🚣‍♂️ के बीच में पहुच कर फरेब किया उसने,
वो कहता तो किनारे पर ही डूब 🏊‍♂️ जाते हम … ।।

पहले जिंदगी ♻️ छीन ली मुझसे,
अब मेरी मौत 💀 का भी वो फायदा उठाती है,
मेरी क़ब्र ⚰️ पे फूल चढ़ाने के बहाने,
वो किसी और से मिलने जाती है … ।। 🤔😞🤫

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WishesHippo