Shayari

Top 50 Khamoshi Shayari in Hindi with Image

Khamoshi Shayari : In his post we share with you best Khamoshi Shayari in Hindi so you enjoy this post or definitely you will learn something good from Khamoshi Shayari in Hindi . Shayari is the best thing to enjoy with your friend by share this Khamoshi Shayari in Hindi .

Khamoshi Shayari in Hindi is the best shayari lot of people follow and read or even people like to learn this Khamoshi Shayari in Hindi due o their passion. This is Khamoshi Shayari in Hindi you can use it for your with your school projects. from Khamoshi Shayari in Hindi you will learn real meaning of life. you can share these shayari with your friends on social media.

We make it simple for you to find the best Khamoshi Shayari in Hindi for Girlfriend so let’s start to read….

Khamoshi Shayari Image

for more : Khamoshi Shayari Image

Khamoshi Shayari

अब अल्फ़ाज नहीं बचे कहने को
एक वो है,जो मेरी ख़ामोशी नहीं समझती।Khamoshi Shayari

मेरी खामोशियों में भी फसाना ढूंढ लेती है,
बड़ी शातिर है ये दुनिया बहाना ढूंढ लेती है,
हकीकत जिद किये बैठी है चकनाचूर करने को,
मगर हर आंख फिर सपना सुहाना ढूंढ लेती है।

तड़प रहे है हम तुमसे एक अल्फाज के लिए,
तोड़ दो खामोशी हमें जिन्दा रखने के लिए।

इश्क की राहों में जिस दिल ने शोर मचा रखा था,
बेवफाई की गलियों से आज वो खामोश निकला.

कभी ख़ामोश बैठोगे, कभी कुछ गुनगुनाओगे,
हम उतना याद आयेंगे, जितना तुम मुझे भुलाओगे.

Shayari on Khamoshi
मेरी आवाज़ किसी शोर में गर डूब गई मेरी खामोशी बहुत दूर सुनाई देगी..

हम ख़ामोशी से देते हैं ख़ामोशी का जवाब,
कौन कहता हैं अब हम बात नहीं करते !

जब से ग़मों ने मेरी जिंदगी में
अपनी दुनिया बसाई है,

दो ही साथी बचे हैं अपने
एक ख़ामोशी और दूसरी तन्हाई है..

इश्क की राहों में जिस दिल ने शोर मचा रखा था,
बेवफाई की गलियों से आज वो खामोश निकला.

ये तुफान यूँ ही नहीं आया है
इससे पहले इसकी दस्तक भी आई थी,

ये मंजर जो दिख रहा है तेज आंधियों का
इससे पहले यहाँ एक ख़ामोशी भी छाई थी.

बड़ी ख़ामोशी से गुज़र जाते हैं
हम एक दूसरे के करीब से

हम ख़ामोशी से देते हैं ख़ामोशी का जवाब,
कौन कहता हैं अब हम बात नहीं करते.

तेरी ख़ामोशी, अगर तेरी मज़बूरी है,
तो रहने दे इश्क़ कौन सा जरुरी है.

खामोशी बयां कर देती है सब कुछ,
जब दिल का रिश्ता जुड़ जाता है किसी से.

इश्क़ के चर्चे भले ही सारी दुनिया में होते होंगे,
पर दिल तो ख़ामोशी से ही टूटते हैं..

जब वो खामोश होती है तब मुझे
दुनिया की सबसे महँगी चीज
उनकीआवाज़ लगती है..

हमारी मोहब्बत जरूर अधूरी रह गयी होगी पिछले जन्म मे,
वरना इस जन्म की तेरी ख़ामोशी मुझे इतना बेचैन न करती.

वो अब हर एक बात का मतलब पूछता है मुझसे “फ़राज़”
कभी जो मेरी ख़ामोशी की तफ्सील लिखा करता था.

 

हम ख़ामोशी से देते हैं ख़ामोशी का जवाब,
कौन कहता हैं अब हम बात नहीं करते.

Hum Khamoshi se Dete hai Khamosi ka Jawab,
Kaun Kehta hai Ab Hum Baat Nahi Karte ! 😑

जज्बात कहते हैं, खामोशी से बसर हो जाएँ,
दर्द की ज़िद हैं कि दुनिया को खबर हो जाएँ.

Jazbaat Kehte hai, Khamoshi se Basar Ho Jaye,
Dard ki Zidd hai Duniya ko Khabar ho Jaye.

चुभता तो बहुत कुछ हैं मुझे भी तीर की तरह,
लेकिन खामोश रहता हूँ तेरी तस्वीर की तरह.

Chubta toh Bahut kuch hai Muje Bhi Teer ki Tarah,
Lekin Khamosh Rehta hu Teri Tasveer ki Tarah !

ख़ामोश शहर की चीखती रातें,
सब चुप हैं पर, कहने को है हजार बातें.

Khamosh Seher ki Chikhati raate,
Sab Chup hai par,
Kehne ko hai Hajaar Baatein !

इंसान की अच्छाई पर सब खामोश रहते हैं,
चर्चा अगर उसकी बुराई पर हो तो गूँगे भी बोल पड़ते हैं.

Insaan ki Acchai par sab Khamosh rehte hai,
Charcha Agar uski Burai par ho toh Gunge Bhi Bol

जरूरी नहीं कि हर बात लफ़्ज़ों की गुलाम हो,
ख़ामोशी भी खुद में इक जुबान होती है..

Zaruri Nahi ki Har Baat Lafzo k Ghulam Ho,
Khamoshi Bhi Khud mein Ek Zubaan Hoti hai !!
जब ख़ामोश आखों से बात होती हैं,
ऐसे ही मोहब्बत की शुरूआत होती हैं.

Jab Khamosh Aankho se Baat Hoti hai,
Aise hi Mohabbat ki Shuruaat Hoti hai !

बडी लम्बी खामोशी से गुजरा हूँ मै ,
किसी से कुछ कहने की कोशिश मे।

Badi Lambi Khamoshi se Gujra hu mein,
Kisi se Kuch Kehne ki Koshish Mein !

*** Best Khamoshi Status ***
खामोशी समझदारी भी है और मजबूरी भी…
कहीं नज़दीकियां बढ़ाती है और कहीं दूरी भी…!!

Khamoshi Samajdaari bhi hai aur Majboori bhi …
Kahi Najdikiya Badhati hai aur Kahi Duri Bhi …!!
______________________________________________

आसिम वास्ती
अजीब शोर मचाने लगे हैं सन्नाटे
ये किस तरह की ख़मोशी हर इक सदा में है..

भारत भूषण पन्त
ख़ामोशी में चाहे जितना बेगाना-पन हो
लेकिन इक आहट जानी-पहचानी होती है..

अमीर क़ज़लबाश
उसे बेचैन कर जाऊँगा मैं भी,
ख़मोशी से गुज़र जाऊँगा मैं भी.

मुझे छूने की ख़्वाहिश कौन करता है
कि पल भर में बिखर जाऊँगा मैं भी..

एक उम्र ग़ुज़ारी हैं हमने तुम्हारी ख़ामोशी पढते हुए,
एक उम्र गुज़ार देंगे तुम्हें महसूस करते हुए..
सर्दी, ठण्ड पर बनी शायरी

कभी सावन के शोर ने मदहोश किया था मौसम,
आज पतझड़ में हर दरख़्त खामोश खड़ा है..

शोर तो दुनिया वालों ने मचाया है हमारे कारनामों का,
हमने तो जब भी कुछ किया ख़ामोशी से ही किया है..
20=
जब से ये अक्ल जवान हो गयी,
तब से ख़ामोशी ही हमारी जुबान हो गयी..

उसकी सच्चाई जब से हमारे पास आई,
हमारे लबों को तब से ख़ामोशी ही रास आई..

हमारी ख़ामोशी ही हमारी कमजोरी बन गयी,
उन्हें कह न पाए दिल के जज़्बात और इस तरह से
उनसे इक दूरी बन गयी..

भूल गए हैं लफ्ज़ मेरे लबों का पता जैसे,
या फिर खामोशियों ने जहन में पहरा लगा रखा है..
जुल्फों पर शायरी – Zulf Par Shayari

दर्द आवाज़ छीन लेता है,
ख़ामोशी बेवजह नहीं होती..

एक उम्र ग़ुज़ारी हैं हमने तुम्हारी ख़ामोशी पढते हुए,
एक उम्र गुज़ार देंगे तुम्हें महसूस करते हुए..

मेरी खामोशी से किसी को कोई फर्क नही पड़ता,
और शिकायत में दो लफ़्ज कह दूं तो वो चुभ जाते हैं।

बातें किया कीजिए गलतफहमी दूर करने के लिए
क्योंकि ख़ामोशी से उलझे रिश्ते सुलझा नहीं करते.

मेरी ख़ामोशी में सन्नाटा भी हैं और शोर भी हैं,
तूने गौर से नहीं देखा, इन आखों में कुछ और भी हैं.Khamoshi Shayari

Dard Khamoshi Shayari
कोई तो हो जो घबराए मेरी खामोशी से,
किसी को तो समझ आए मेरे लहज़े का दुःख…

तेरी खामोशी जला देती है इस दिल की हसरतो को,
बाकी सारी बातें अच्छी हैं तेरी तस्वीर में।

बडी लम्बी खामोशी से गुजरे हैं हम…
किसी से कुछ कहने की कोशिश में…!!Khamoshi Shayari

शिकवा शिकायत ही कर डालो के कुछ वक़्त कट जाए,
होंठो पर आपके सनम यह खामोशी अच्छी नहीं लगती।

 

यूँ तो एक आवाज़ दूँ.. और बुला लूँ तुम्हें,
मगर कोशिश ये है कि.. खामोशी को भी आज़मा लूँ ज़रा।

Khamoshi Shayari

उसे लगता है कि मुझे उसकी चालाकियॉं समझ नहीं आती
मैं बड़ी ख़ामोशी से देखता हूँ उसे अपनी नजरों से गिरते हुए ।

रुतबा तो ‘खामोशियों’ का होता है,
अल्फ़ाज’ का क्या, वो तो मुकर जाते हैं, हालात देखकर ।

Teri Khamoshi Shayari
खामोशियॉं बेवजह नहीं होती
कुछ दर्द आवाज छीन लिया करते हैं ।

अज़ीब है खामोशियाँ कमाल है खामोशियाँ ।
है कहीं ज़वाब तो कहीं सवाल है खामोशियाँ ।

हर जज़्बात कोरे कागज़ पर उतार दिया उसने,
वो खामोश भी रहा और सब कुछ कह गया।

Thank for read Top 50 Khamoshi Shayari in Hindi with Image

other shayari :

Best 2 Line Shadi Shayari in Hindi with Image

Best 50 Intezaar Shayari in Hindi with Image

Top 50 Good Morning Shayari in Hindi with Image

Top 100 Diwali Shayari in Hindi with Image

Top 50 Zindagi Dard Bhari Shayari in Hindi with Image

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WishesHippo