Shayari

Top 50 Nafrat Shayari for Boyfriend and Girlfriend

Nafrat Shayari : In his post we share with you best Nafrat Shayari so you enjoy this post or definitely you will learn something good from Nafrat Shayari . Shayari is the best thing to enjoy with your friend by share this Nafrat Shayari .

Nafrat Shayari is the best shayari lot of people follow and read or even people like to learn this Nafrat Shayari due o their passion. This is Nafrat Shayari you can use it for your with your school projects. from Dosti Shayari you will learn real meaning of life. you can share these shayari with your friends on social media.

We make it simple for you to find the best Nafrat Shayari for Girlfriend so let’s start to read….

Nafrat Shayari Image

for more : Nafrat Shayari Image

Nafrat Shayari

Tere Har Ek Aqs – तेरे हर एक अक्स
nafrat shayari
nafrat shayari in hindi with images | nafrat shayari for girlfriend
तेरे हर एक अक्स से नफरत होने लगी,
कुछ इस क़दर हमे खुद से मोहब्बत होने लगी।

Tere har ek aqs se nafrat hone lagi,
Kuch is qadar hume khud se mohabbat hone lagi.

Sitam Judai Ka – सितम जुदाई का
सितम जुदाई का हंस कर सहेंगे,
तेरे बिना हम बोहोत खुश रहेंगे।

पछतावा है मुझे की कभी किया था मैंने मोहब्बत तुमसे,बहुत से थे पर दिल्लगी का क्यों हुआ था दिल को हसरत तुमसे,तुमने पूछा था आज भी करते हो ना तुम प्यार मुझसे,तो सुनो नहीं है किसी से जितना उतना करता हूँ नफरत तुमसे।

Pachtava hai mujhe ki kabhi kiya tha maine mohabbat tumse,bahut se the par dillagi kyon hua tha dil ko hasrat tumse, tumne pucha tha aaj bhi karte ho na tum pyar mujhse,to suno nahi hai kisi se jitna utna karta hun nafrat tumse.

उठ गया पर्दा प्यार का अब आँखों से मेरे,जैसे गायब हो गया हूँ मैं दास्ताँ से तेरे,चला जाना चाहता हूँ बड़ी दूर तुझसे मैं क्योंकि,चीट यू लगता है मुझे लव यू तेरा जुबान से तेरे।

Uth gya parda pyar ka ab aankhon se mere,jaise gayab ho gaya hun main dastan se tere,chala jana chahta hun badi door tujhse main kyonki,cheat you lagta hai mujhe love you tera juban se tere.

प्यार का एहसास उसे दिलाने के लिए मेरा सब कुछ खो गया,पर नफरत तो सिर्फ दिखाया था न जाने ब्रेकअप कैसे हो गया।

Pyar ka ehsaas use dilane ke liye mera sab kuch kho gaya,par nafrat to sirf dikhaya tha na jane breakup kaise ho gaya.

इस टूटे दिल में अब कभी कोई और नहीं होगा,तुमसे नफ़रत के बाद अब कोई दिलदार नहीं होगा।

Is toote dil mein ab kabhi koi aur nahi hoga,tumse nafrat ke baad ab koi dildaar nahi hoga.

कुछ लोगों को मुझसे नफरत करने की वजह नहीं खोजनी पड़ती,क्योंकि मेरी थोड़ी हँसी भी उनके नफरत की वजह बन जाती है।

Kuch logon ko mujhse nafrat karne ki wajah nahi khojni padti,kyonki meri thodi hansi bhi unke nafrat ki wajah ban jati hai.

तुम्हे पता था की मुझे तोड़ना इतना आसान नहीं,इसलिए तुमने प्यार का फ़रेबी खेल खेला मेरे साथ।

चाह कर भी मुंह फेर नहीं पा रहे हो
नफरत करते हो या इश्क़ निभा रहे हो
जरूरत है मुझे नये नफरत करने वालों की
पुराने तो अब मुझे चाहने लगे है

हमें बरबाद करना है तो हमसे प्यार करो
नफरत करोगे तो खुद बरबाद हो जाओगे
नफरतें इश्क़ भी बड़ी की होती है उनसे
उनसे नफरत दिखता है और
दिल ही दिल में प्यार करता है उनसे
लेकर के मेरा नाम वो मुझे कोसता है
नफरत ही सही पर वो मुझे सोचता तो है

खुदा सलामत रखना उन्हें
जो हमसे नफरत करते हैं
प्यार न सही नफरत ही सही
कुछ तो है जो वो सिर्फ हमसे करते हैं
बैठ कर सोचते हैं अब

कि क्या खोया क्या पाया
उनकी नफरत ने तोड़े बहुत
मेरी वफ़ा के घर
नफरत चांद की सितारों से हो तो
वो अपनी चांदनी रोशनी कम कर देता है
हम चांद तो नहीं पर
अपनी सांसे हम भी कम कर सकते हैं
हक़ देंगे पूरा उसे निभाने का
कबूल करते हैं नफरत तेरी

खैरात में जो मिले हमें
कबूल तो उसकी मोहब्बत भी नहीं करते हम
वो नफरतें पाले रहे हम प्यार निभाते रहे
लो ये जिंदगी भी कट गयी खाली हाथ सी
तेरी नफरत को मैने प्यार समझ कर अपनाया हैं
प्यार से ही नफरत खत्म होता हैं
तूने ही तो समझाया हैं

ये तेरी हल्की सी नफ़रत और थोड़ा सा इश्क़, यह तो बता ये मज़ा-ए-इश्क़ है या सजा़-ए-इश्क़।

Ye Teri Halki Si Nafrat Or Thoda Sa Ishq, Yah To Bata Ye Maza-E-Ishq Hai Ya Saza-E-Ishq.

ना मेरा प्यार कम हुआ, ना उनकी नफरत, अपना-अपना फर्ज था, दोनों अदा कर गये।

Na Mera Pyaar Kam Huaa, Na Unki Nafrat, Apna-Apna Farz Tha, Donon Aada Kar Gaye.

कोई तो हाल-ए-दिल अपना भी समझेगा, हर शख्स को नफरत हो जरूरी तो नहीं।

Koi Toh Haal-e-Dil Apna Bhi Samjhega, Har Shakhs Ko Nafrat Ho Jaroori To Nahi.

नफरत मत करना हमसे हमें बुरा लगेगा, बस प्यार से कह देना तेरी जरुरत नहीं हैं।

Nafrat Mat Karna Humse Hamein Bura Lagega, Bas Pyar Se Kah Dena Teri Jaroorat Nahi Hain.

क़त्ल तो लाजिम है इस बेवफा शहर में, जिसे देखो दिल में नफरत लिये फिरता हैं।

Qatl Toh Lazim Hai Is Bewafa Shahar Mein, Jise Dekho Dil Mein Nafrat Liye Firta Hain.

लेकर के मेरा नाम वो मुझे कोसता है, नफरत ही सही पर वो मुझे सोचता तो हैं।

Lekar Ke Mera Naam Woh Mujhe Kosta Hai, Nafrat Hi Sahi Par Woh Mujhe Sochta Toh Hain.

इश्क़ करे या नफरत इजाज़त है उन्हें, हमे इश्क़ से अपने कोई शिकायत नहीं।

Ishq Kare Ya Nafarat Ijazat Hai Unhen, Hume Ishq Se Apne Koi Shikayat Nahin.

दुनिया को नफरत का यकीन नहीं दिलाना पङता, मगर लोग मोहब्बत का सबूत ज़रूर मागते हैं।

Duniya Ko Nafarat Ka Yakin Nahin Dilana Padta, Magar Loh Mohabbat Ka Sabut Jarur Magte Hain.

है खबर अच्छी के आजा मुँह तेरा मीठा करें, नफरतें तेरी हुई है बा-खुशी दिल को कबूल।

Hai Khabar Achchhi Ke Aaja Muh Tera Mitha Karen, Nafraten Teri Hui Hai Ba-Khushi Dil Ko Kabul.

मोहब्बत सच्ची हो तो कभी नफरत नहीं होती हैं
अगर नफरत होती हैं तो मोहब्बत सच्ची नहीं होती हैं
नफरत हो दिल में तो मिलने का मजा नहीं आता है
वो आज भी मिलता हैं पर दिल कही और छोड़ आता हैं

दिल पर ना मेरे यू वार कीजिए
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिए
तड़पते हैं जिस कदर तेरे प्यार में हम
कभी खुद को भी उस कदर बेक़रार कीजिए
मेरे दिल ने उस पर यकीन किया था

नफरत क्यों करुँ अगर उसने दिल तोड़ दिया
मैं फना हो गया अफसोस वो बदला भी नहीं
मेरी चाहतें से भी सच्ची रही नफरत उसकी
ज़िन्दगी से नफरत किसे होती हैं
मरने कि चाहत किसे होती हैं

प्यार भी एक इतेफा़क होता हैं
वरना आँसूओ से मोहब्बत किसे होती है

तुम्हारी नफरत पर भी लुटा दी ज़िन्दगी हमने
सोचो अगर तुम मुहब्बत करते तो हम क्या करते
नफरतों के बाजार में प्यार बेचते है
और कीमत में बस दुआ लेते है

जिन्दगी भर तुझ से मिलने की दुआ की
सोचा ना था ऐसा भी दिन आएगा
मुझे ऐसा भी दुआ करनी पड़ेगी
अये खुदा उसे दिल से निकाल दे,
यही तो राज़-ए-उल्फ़त है
जो हर आंसू का रुख़ मोड़ा…
बहुत ख़ुश हैं

तेरे बारे में जबसे सोचना छोड़ा….💔
भुलाना ही था मुझको तो नफरत का सहारा क्यूँ
डूबने देते मुझको यूँ ही दिखाया था किनारा क्यूँ
थी नफरत अक्स से वो आईना तोड़ना सिख गया
वो अपनी गलती पर भी मुँह मोड़ना सिख गया
कोई तो वजह होगी बेवजह को नफरत नहीं करता
हम तो उनकी दिल कि समझते हैं
वो हमे समझने की कोशिश नहीं करता

फूलो के साथ काटें भी मिल जाते हैं
खुशी के साथ गम भी मिल जाते हैं
यह तो मजबूरी हैं हर आशिक़ कि
वरना प्यार में नफरत कोई जान बुझ कर नहीं करता
वो इंकार करते हैं इकरार के लिए
नफरत करते हैं तो प्यारा के लिए
उलटी चाल चलते हैं ये इश्क़ वाले

Shayari on Nafrat
Jab chaha usne apna banaya mujhe,
man bharne par usne thukraya mujhe,
gussa aata tha sirf uske jhoohte pyar mein
par ab nafrat karna usne sikhaya mujhe.

Nafrat Shayari hindi
नफरतों को जलाओ मोहोब्बत की रौशनी होगी,
वरना- इंसान जब भी जले हैं ख़ाक ही हुए है……!!!

Nafrat Shayari in hindi
Qatl Toh Lazim Hai Iss Bewafa Shahar Mein,
Jise Dekho Dil Mein Nafrat Liye Firta Hai.

Nafrat bhari Shayari
चला जाऊँगा मैं धुंध के बादल की तरह,
देखते रह जाओगे मुझे पागल की तरह,
जब करते हो मुझसे इतनी नफरत तो क्यों,
सजाते हो आँखो में मुझे काजल की तरह।

Nafrat ki Shayari
प्रेम की पतंग उड़ाना नफरत के पेंच काटना,
मांझे जितना लंबा रिश्ता बढ़ाना,दिल से इसे निभाना।

Nafrat Shayari for boyfriend
Tum Nafrat Ka Dharna Kayamat Tak Jari Rakho,
Main Pyar Ka Isteefa Zindagi Bhar Nahin Doonga.

Nafrat Shayari image
मैं काबिले नफरत हूँ, तो छोड़ दे मुझको।
तू मुझसे यूँ दिखावे की मोहब्बत न किया कर।।

Nafrat Shayari 2 line
पछतावा है मुझे की कभी किया था मैंने मोहब्बत तुमसे,
बहुत से थे पर दिल्लगी का क्यों हुआ था दिल को हसरत तुमसे,
तुमने पूछा था आज भी करते हो ना तुम प्यार मुझसे,
तो सुनो नहीं है किसी से जितना उतना करता हूँ नफरत तुमसे।

Nafrat Shayari in english
ए खुदा रखना मेरे दुश्मनो को भी मेहफूज,
वरना मेरी तेरे पास आने की दुवा कौन करेगा……!!

Nafrat Shayari in hindi for girlfriend
Lekar Ke Mera Naam Woh Mujhe Kosta Hai,
Nafrat Hi Sahi Par Woh Mujhe Sochta Toh Hai.

Nafrat Shayari for girlfriend
कुछ इस अदा से निभाना है किरदार मेरा मुझको,
जिन्हें मुहब्बत ना हो मुझसे वो नफरत भी ना कर सके।

Nafrat Shayari photo
प्रेम की पतंग उड़ाना, नफरत की पेच काटना
मांझे जितना लंबा रिश्ता बढ़ाना, दिल से इसे निभाना

Nafrat Shayari in urdu
Nafraton Ke Jahan Mein Hamko Pyar Ki Bastiyan Basani Hain,
Door Rahna Koi Kamaal Nahin, Pas Aao To Koi Baat Bane.

Nafrat Shayari dp
नफरत मत करना मुझसे,
बुरा लगेगा।

Nafrat attitude Shayari
Uth gya parda pyar ka ab aankhon se mere,
jaise gayab ho gaya hun main dastan se tere,
chala jana chahta hun badi door tujhse main kyonki,
cheat you lagta hai mujhe love you tera juban se tere.

Nafrat Shayari english
ना जाने क्यु कोसते है लोग बदसुरती को,
बरबाद करने वाले तो हसीन चहेरे होते है……..!!!

Nafrat Shayari urdu
Baith Kar Sochte Hain Ab Ke Kya Khoya Kya Paya,
Unki Nafrat Ne Tode Bahut Meri Wafa Ke Ghar.

Shayari on Nafrat mohabbat
खुदा सलामत रखना उन्हें,
जो हमसे नफरत करते हैं,
प्यार न सही नफरत ही सही,
कुछ तो है जो वो सिर्फ हमसे करते हैं।

Nafrat karti hu tumse Shayari
किसी ने मुझसे पूछा तुम्हारा शौक क्या है…
मैने हंस कर कहा नफरत करने वालों से मोहब्बत करना…!!

Nafrat Shayari in hindi for boyfriend
Mahobbat Aur Napharat Sab Mil Chuke Hain Mujhe,
Main Ab Takareeban Mukammal Ho Chuka Hoon.

Nafrat Shayari ghalib
बस एक बार प्यार से कह देना,
अब तेरी जरूरत नहीं।।

Nafrat h mujhe tumse Shayari
Pyar ka ehsaas use dilane ke liye mera sab kuch kho gaya,
par nafrat to sirf dikhaya tha na jane breakup kaise ho gaya.

Nafrat Shayari
हाथ में खंजर ही नहीं आंखोमे पानी भी चाहिए,
ऐ खुदा मुझे दुश्मन भी खानदानी चाहिए……..!!!

 

Shayari on Nafrat
Woh Nafratein Paale Rahe Hum Pyar Nibhate Rahe,
Lo Yeh Zindgi Bhi Kat Gayi Khaali Haath Si.

Nafrat Shayari hindi
हाँ मुझे रस्म-ए-मोहब्बत का सलीक़ा ही नहीं,
जा किसी और का होने की इजाज़त है तुझे।

Nafrat Shayari in hindi
कभी नफरत कभी चाहत से मुझे देखता है
देखने वाला ज़रूरत से मुझे देखता है !!

Nafrat bhari Shayari
Mohabbat Karne Se Fursat Nahin Mili Dosto…
Varna Ham Karke Batate Nafrat Kisko Kahte Hain.

Nafrat ki Shayari
ना मेरा प्यार कम हुआ, ना उनकी नफरत।
अपना अपना फर्ज था, दोनों अदा कर गये।।

Nafrat Shayari for boyfriend
इस टूटे दिल में अब कभी कोई और नहीं होगा,
तुमसे नफ़रत के बाद अब कोई दिलदार नहीं होगा।

Nafrat Shayari image
तुझे तो मोहब्बत भी तेरी औकात से ज्यादा की थी,
अब तो बात नफरत की है, सोच तेरा क्या होगा……..!!!

Nafrat Ho Jayegi Tujhe Apne Hi Kirdaar Se,
Agar Main Tere Hi Andaaj Mein Tujhse Baat Karun.

Nafrat Shayari in english
गुजरे हैं इश्क़ में हम इस मुकाम से
नफरत सी हो गई है मोहब्बत के नाम से
हम वह नहीं जो मोहब्बत में रो कर के
जिंदगी को गुजार दे…
अगर परछाई भी तेरी नजर आ जाए
तो उसे भी ठोकर मार दें।

गज़ब की अदा गज़ब का इस्टाइल हो,
बड़ी शिद्दत से करो नफरत हो या प्यार हो।

 

Nafrat Shayari for girlfriend
Jab Nafrat Karte Karte Thak Jao,
Tab Ek Mauka Pyar Ko Bhi Dena.

Naa Pyar Kam Hua, Naa Usaki Nafarat,
Apna Apna Farj Tha, Dono Ada Kar gaye..

Nafrat Shayari, Latest Nafrat Shayari

Nafrat Shayari in urdu
Kuch logon ko mujhse nafrat karne ki wajah nahi khojni padti,
kyonki meri thodi hansi bhi unke nafrat ki wajah ban jati hai.

Nafrat Shayari dp
उन्हें नफरत हुयी सारे जहाँ से,
अब नयी दुनिया लाये कहाँ से…….!!!

Nafrat attitude Shayari
Tujhe Pyaar Bhi Teri Aukaat Se Jyada Kiya Tha,
Ab Baat Nafrat Ki Hai Toh Nafrat Hi Sahi.

Nafrat Shayari english
तेरी नफरतों को प्यार की खुशबु बना देता,
मेरे बस में अगर होता तुझे उर्दू सीखा देता।

Nafrat Shayari urdu
पूरा हक दोगे उसे निभाने का,
तो तेरी नफरत भी कबूल करते हैं,
जो हमे खैरात में मिले,
उसकी तो…

Kuch Is Ada Se Nibhana Hai Kirdaar Mera Mujhko,
Jinhen Muhabbat Na Ho Mujhse Wo Nafrat Bhi Na Kar Sake.

ये तेरी हल्की सी नफ़रत और थोड़ा सा इश्क़।
यह तो बता ये मज़ा-ए-इश्क़ है या सजा़-ए-इश्क़।।

Nafrat Shayari in hindi for boyfriend
Tumhe pata tha ki mujhe todna itna aasan nahi,
isliye tumne pyar ka farebi khel khela mere sath.

Nafrat Shayari ghalib
लेकर के मेरा नाम मुझे कोसता तो है,
नफरत ही सही, पर वह मुझे सोचता तो है……!!!

 

Nafrat h mujhe tumse Shayari
Mujh Se Nafrat Ki Ajab Raah Nikali Usne,
Hasta Basta Dil Kar Diya Khali Usne,
Mere Ghar Ki Riwayat Se Woh Khoob Tha Waqif,
Judai Maang Li Ban Ke Sawali Usne.

आँखें बंद करते हैं दीदार के लिए
नफरत हो तो यकीन नहीं दिलाना पड़ता हैं
मोहब्बत में ही सबूत कि जरुरत पड़ती हैं
नहीं हो तुम हिस्सा अब मेरी हसरत के
तुम काबिल हो तो सिर्फ नफरत के
नफरत सी होने लगी है इस सफ़र से अब
ज़िन्दगी कहीं तो पहुँचा दे खत्म होने से पहले
नफरत को मुहब्बत की आँखो में देखा
बेरुखी को उनकी अदाओ में देखा
आँखें नम हुए और मै रो पड़ा
जब अपने को गैरों कि बाहो में देखा
खुद से नफरत शायरी
खुद से नफरत शायरी

इश्क़ में वफ़ा का गुरूर जब टूटता है
तब सबसे ज्यादा नफरत खुद से ही होती है
मेरे दिल ने उस पर यकीन किया था,
नफरत क्यों करूँ अगर उसे दिल तोड़ दिया

Tumhe pata tha ki mujhe todna itna aasan nahi,isliye tumne pyar ka farebi khel khela mere sath.

Sitam judai ka hans kar sahenge,
Tere bina hum bohot khush rahenge.

Zamana Wo Bhi Tha – ज़माना वो भी था

ज़माना वो भी था जब तुम ख़ास थे,
ज़माना ये भी है के तेरा ज़िक्र तक नहीं।

Zamana wo bhi tha jab tum khaas the,
zamana ye bhi hai ke tera zikr tak nahi.

Ye Na Sochna – ये ना सोचना
ये ना सोचना के मैं टूट जाऊंगा,
तुझसे दूर रहूँगा, तो चाँद चुम आऊंगा।

Ye na sochna ke main toot jaunga,
Tujhse door rahunga, to chand chum aaunga.

The Ajeez Tum – थे अजीज़ तुम
nafrat shayari in hindi
girlfriend shayari nafrat | pyar se nafrat
थे अजीज़ तुम अब जी नहीं भरता,
तुमसे बात करने का अब मन नहीं करता।

The ajeez tum ab jee nahi bharta,
Tumse baat karne ka ab mann nahi karta.

Thank for read Top 50 Nafrat Shayari for Boyfriend and Girlfriend

other shayari :

Top 50 Barish Shayari with Image

Top 100+ Urdu Shayari with Image

Top 60 Heart Touching Shayari in Hindi with Image

Top 50 Urdu Shayari in Hindi with Image

Top 100 Dosti Shayari for Friend in Hindi with Image

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WishesHippo